दोस्तों आपने कभी न कभी ये तो सोचा ही होगा कि email aur gmail me kya antar hain? काफी लोगों को तो यहीं लगता है कि ई-मेल और जी-मेल दोनों एक ही चीज है, आज आपके इसी कंफ्यूजन को दूर करने के लिए मैंने यह आर्टिकल लिखा है। 

इसकों पढ़ने के बाद आपका सारा doubt खत्म हो जाएगा। 

दोस्तों आप तो जानते ही होंगे कि पहले के समय में ये होता था कि जब हमें कोई संदेश लिखना होता था। तो हम डाक विभाग का सहारा लेते थे और अपनी चिट्ठी लिख कर भेजते थे।

यह प्रक्रिया भी इसी तरह से काम करतीे है, लेकिन e-mail aur g-mail main kya antar hain समझने से पहले हमे ये समझना होगा कि ई-मेल और जी-मेल आखिर है क्या? 

ये पता चलने के बाद आपको पता चल ही जाएगा कि ये दोनों क्या हैं? लेकिन इसके लिए आपकों हमारे इस article को पूरा पढ़ना पढना होगा, तो चलिए शुरू करते हैं।

Email kya hain – ई-मेल क्या है?

ई-मेल का पूरा नाम इलेक्ट्रॉनिक मेल (electronic mail) है, यानी इसे इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से कोई भी संदेश भेजा या मंगाया जाता है इसे ही ई-मेल(e-mail) कहते हैं। वैसे इसका ज्यादातर प्रयोग बिजनेस यूज के लिये किया जाता है या फिर आफिस वर्क के दौरान, संदेश भेजने के लिए किया जाता है।

यदि आप जानना चाहते है की email id kaise banaye तो आप हमारा यह लेख जरूर पढियेगा क्युकी इसमें हमने वे सारे स्टेप्स बताएं है जिनकी मदद से आ अपनी पहेली जीमेल आईडी बढ़ी आसानी से बना सकते है।

G-mail Kya Hai – जी-मेल क्या है?

जी-मेल का पूरा नाम गूगल मेल (Google mail) है यह भी गूगल का ही एक प्रोडक्ट है जिसकों गूगल ने बनाया है। यह  एक फ्री सेवा है इसका यूज करने के लिए आपकों पहले इसमें एक जी-मेल अकाउंट बनाना होता है। वैसे ई-मेल भेजने के और भी टूल है जो कि बिल्कुल फ्री है जिन्हे हम ह़ॉटमेल(Hotmail) और याहू मेल(Yahoo mail) के नाम से जानते हैं पर ज्यादातर लोग  फिर भी जी-मेल(G-Mail) का ही प्रयोग करते है क्योंकि इसका use करना काफी आसान है। 

E-mail Aur G-mail Me Antar – जी-मेल और ई-मेल में अंतर

दोस्तों जैसे अब अगर हम कोई लेटर या कुछ जरूरी कागज़ात को हमे कही पहुंचाना हैं तो हम या तो डाक के द्वारा भेजते है या पिर DTDC या फिर  First Flight सर्विस के द्वारा भेजते हैं। 

ठीक इसी तरह हम किसी को ई-मेल करने के लिए जी-मेल, याहूं या फिर हॉटमेल सर्विस का प्रयोग करते हैं।

आप इसको आसान तरीके में ऐसे समझ सकते हैं कि जैसे एक बाजार में काफी सारी छोटे-छोटे दुकान है होती हैं ठीक उसी तरह हमारा ईमेल एक  बड़े बाजार की तरह है और ठीक वैसे ही वे सभी छोटी छोटी दुकाने हमारी जीमेल, याहू मेल, और हॉटमेल है।

हर किसी कंपनी के पास अपना अपना ईमेल होता है और आप अपना खुद का भी ईमेल बना सकते हैं परंतु जो जी-मेल है वह सिर्फ गूगल का है जिसमें जीमेल का मतलब गूगल मेल होता है।

ईमेल और जीमेल में अंतर निम्नलिखित हैं।

  • ईमेल किसी भी कंपनी का हो सकता है परंतु g-mail google का है।
  • ईमेल एक पैरंट ब्रांच है जबकि जीमेल को एक चाइल्ड ब्रांच कह सकते हैं।
  • ई-मेल की एक्सटेंशन @email.com, @xyz.com, @abc.com हो सकती है जहां पर xyz और abc किसी भी कंपनी के नाम हो सकते हैं परंतु जब हम जीमेल की बात करते हैं तो वहां पर सिर्फ @gmail.com ही होता है।

E-mail Aur G-mail Ka Use – ई-मेल और जी-मेल का प्रयोग  

आप सब तो जानते ही होंगे कि ई-मेल का प्रयोग photos, messages, important documents or videos etc. भेजने के लिए किया जाता है पर आजकल इसका यूज काफी बढ़ गया है क्योंकि आजकल हम लगभग सभी काम इंटरनेट के माध्यम से करने लग गए है, देखा जाए तो ई-मेल प्रयोग बढ़ता ही जा रहा हैं।

यदि आपको जानना है email kaise bhejte hai की तो हमने इस पर एक लेख लिखा है जिसमे ईमेल भेजने के सरे स्टेप्स विस्तार में बताये है।

ईमेल और जीमेल का प्रयोग निम्नलिखित तरह से किया जा सकता है:

  • इमेजेस वीडियोस पीडीएफ या फिर कोई फाइल भेजने के लिए।
  • एक दूसरे को मैसेज भेजने में रिसीव करने के लिए।
  • ऑनलाइन चैट करने के लिए।
  • अपने बिजनेस का प्रमोशन करने के लिए।
  • कोर्स की बुक या कोई ऑनलाइन सेवा बेचने के लिए।
  • ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंस या वेबीनार में लोगों को बुलाने के लिए।

निष्कर्ष 

दोस्तों उम्मीद है कि आपका यह सवाल भी दूर हो गया होगा कि e-mail aur g-mail me kya antar hain. लेकिन इसकों लेकर अगर आपका कोई भी सवाल हो तों आप हमारे टेलीग्राम ग्रुप से बता सकते हैं। या फिर ई-मेल भी कर सकते है। हम आपके सवाल का जल्द से जल्द जबाव देंगे। धन्यवाद 

Leave a Reply

Your email address will not be published.