दोस्तों अगर आप थोडा सा भी कम्पयूटर चलाने के बारे में जानते हो तो आपने कभी न कभी Microsoft Office का नाम तो सुना ही होगा । अगर नहीं भी सुना तो कोई बात नहीं क्योंकि आज हम यहीँ जानेंगे कि MS Office kya hai और इससे संबंधित लगभग सभी बेसिक जानकारी देंगे जिससे आप इस टॉपिक को लेकर अंजान न रहे।

तो चलिए शुरू करते है। 


MS Office Kya Hota Hai – एम एस ऑफिस क्या होता है?

अगर आप किसी सरकारी कार्यालय में गये होंगे या फिर आपने अगर किसी टाईपिस्ट को कंप्यूटर पर टाईप करते हुए देखा होगा तो निश्चित ही वहाँ MS Office के वर्ड पर टाइपिंग करते हुए देखा होगा |

एम एस ऑफिस काफी ज्यादा जगह पर काम आता है चाहिए वह कोई दफ्तर हो या फिर कोई कॉलेज।  लगभग हर जगह ही एम एस ऑफिस का इस्तेमाल किया जाता है।  

एम एस ऑफिस का परिचय

MS- Office एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जिसको दुनिया का लगभग हर कम्पयूटर यूजर इस्तेमाल करता है। अब इसी बात से अंदाजा लगा जा सकता है कि यह कितना popular software  है। 

इसका यूज इसलिए इतना अधिक किया जाता है क्योंकि कम्प्यूटर के छोटे से छोटे काम में कही न कही किसी न किसी रूप में हमें इस सॉफ्टवेयर का यूज करना ही पडता है।

MS-Office  एक फुल पैकेज साफ्टवेयर है जो काफी सारे कंपोनेन्टस से मिलकर बना है। जिनके नाम इस प्रकार है-एम एस एक्सेल (Microsoft Excel), एम एस वन नोट (Microsoft OneNote), एम एस पॉवरपॉइंट (Microsoft Powerpoint), एम एस पब्लिशर (Microsoft Publisher), एम एस एक्सेस (Microsoft Access), एम एस आउटलुक (Microsoft Outlook), एम एस इन्फोपाथ डिज़ाइनर (Microsoft InfoPath Designer) । 

इन सबके बारे में आगे थोड़ा थो़डा जानेगे। आपको यह भी जानना चाहिए कि,MS-Office को Microsoft suit के नाम से भी जाना जाता है।


MS office की फुल फॉर्म 

MS-Office का पूरा नाम Microsoft Office (माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस) है। इस साफ्टवेयर को Microsoft (माइक्रोसॉफ्ट) कंपंनी द्वारा 1989-1990  में तैयार किया गया है जो कि एक अमेरिकी कंपनी है। इसके मालिक BIll Gates (बिल गेट्स) है।


एम. एस ऑफिस का प्रयोग – MS Office Ka Pryog

Microsoft office एक ऐसा grafical application software है। जिसका प्रयोग दुनिया के लगभग हर इलाको  में किया किया जाता है। जानते है इसके कुछ common या मुख्य प्रयोग क्या है ?

  • Confrence या किसी ऑफिस मीटिंग के लिए Presentation तैयार कर सकते है।
  • Finance और Accountin के कार्यो में इनका प्रयोग सबसे अधिक होता है। 
  • इसकी सहायता से फाइलों को ऑनलाइन स्टोर भी किया जा सकता है। इससे हम उस file को कभी भी और कही भी assess कर पायेंगे।
  • स्टूडेंट्स अपने स्कूल असाइनमेंट, क्लास नोट्स, प्रोजेक्ट, इत्यादि बनाने के लिए इनका उपयोग कर सकते है।
  • इन टूल का उपयोग करके हम रिपोर्ट तैयार कर सकते है, रिज्यूम और लेटर जैसे डॉक्यूमेंट क्रिएट और एडिट कर सकते है।
  • Microsoft Office के टूल्स की मदद से एक कंपनी अपने कर्मचारियों और कस्टूमर के डेटा को मैनेज करने के लिए इस software की सहायता लेती है।
  • Contact को मैनेज करने के लिए भी हम इसका इस्तेमाल कर सकते है।
  • दोस्तों ms office OS पर चलने वाला एक word processing software है जिसका प्रयोग दुनिया भर में किया जाता है। ms office के द्धारा हम office के सभी application कार्यों को ( document, typing, project, resume, database, form, email mail merge, letter ) आसानी से कर सकते हैं।

एम एस ऑफिस में क्या क्या होता है – MS Office Me Kya Kya Hota Hai

यहां हम जानेंगे कि एम एस ऑफिस में कौन कौन components आते है और इनके बारें में थोडी बहुत जानकारी लेंगे। क्योंकि इनमें से प्रत्येक के बारे में विस्तार से जानना संभव नहीं है। क्योंकि इनमें से हर एक टॉपिक अपने आप में एक बड़ा विषय है।

screenshot from Microsoft website office
screenshot from Microsoft website office

#1. एम एस वर्ड (Microsoft Word)

MS word एक वर्ड प्रोसेसर (word processor) है जो की लेख को कंप्यूटर में लिखने तथा उसका एडिट करना का फीचर प्रदान करता है। यह एक application software है जो की Microsoft का एक Product है, MS Word को “word” के नाम से जाना जाता है। इसका इस्तेमाल टेक्स्ट को एडिट, फॉर्मेट, फाइल सेव, प्रिंट और सेंड करने के लिए किया जाता है।  

यदि आप जानना चाहते है की एम् इस वर्ड क्या होता है और इसको कैसे सीख सकते है? तो आप हमारा यह लेख MS word kya hai पढ़ सकते है इसमें हमने एम् वर्ड की स्क्रीन कितने भागो में बाटी जा सकती है वह भी बताया है।


#2. एम एस एक्सेल (Microsoft Excel)

  MS Excel, जिसका पूरा नाम ‘Microsoft Excel‘ है तथा इसे ‘Excel‘ के नाम से भी जाना जाता है,  यह एक Spread Sheet based Program है, जो आंकडों को Tabular format में Open, Create, Edit, Formatting, Calculate, Share एवं Print आदि करने का कार्य करता है. MS Excel को Microsoft द्वारा विकसित किया गया है calculations के लिए सबसे बढ़िया सॉफ्टवेयर है।


#3. एम एस वन नोट (Microsoft OneNote)

वननोट (OneNote) एक डिजिटल नोटबुक हैं | हम इसमें नोट्स (Notes) सेव (Save) कर सकते हैं, ड्राइंग (Drawing) कर सकते हैं इसमें हम नोटबुक्स (Notebooks) के अलग-अलग सेक्शन (Section) बना सकते हैं | 

वन नोट में हम text टाइप भी कर सकते हैं अथवा किसी अन्य वेबपेज (Webpage) से जानकारी इसमें insert भी कर सकते है | 

OneNote हमारी एक ऐसी नोटबुक हैं जिसमे हम कभी भी, कही भी जानकारी (Information) सेव (Save) कर सकते हैं |वन नोट डेस्कटॉप एवं मोबाइल एप्लीकेशन (Application) दोनों में ही उपलब्ध हैं |


#4.एम एस पॉवरपॉइंट (Microsoft PowerPoint)

 एम एस पॉवरपॉइंट का पूरा नाम Microsoft Powerpoint है, जिसे हम PowerPoint के नाम से भी जानते हैं। यह एक बहुत ही शक्तिशाली presentation making programe है जो डेटा यानी Text, photo, Audio आदि को slide के रूप में तैयार करने और इसे Create, Edit करने, format करने, Share करने और Present करने का काम करता है।


#5. एम एस पब्लिशर (Microsoft Publisher) 

MS Publisher एक Desktop Publishing Software है, जिसको Microsoft ने बनाया है। अगर आप सोच रहे है ये MS Word की तरह है तो ऐसा बिल्कुल भी नही है, Publisher को MS वर्ड से बिलकुल अलग बनाया गया है।यह एक Introductory application होता है Marketing Materials को create करने के लिए बनाया गया है।


#6. एम एस एक्सेस (Microsoft Access) 

यह एक Database Management Program है जिसमे छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी Database को एक सही वे में रख सकते है। इसमें हमें Form, Table, Report इत्यादि Create करने की पूरी सुविधा मिलती है। MS Access डेटाबेस के stored informatin को किसी दुसरे प्रोग्राम के साथ जैसे की वेब सर्विसेज से ब्राउज, सर्च, और Access भी किया जा सकता है.


#7. एम एस आउटलुक (Microsoft Outlook) 

यह एक Email Management Program है जिसका उपयोग स्टैंड-अलोन ऐप के रूप में किया जा सकता है। इसको हम एक प्रकार से Email Box को तरह यूज़ करते है।आउटलुक एक प्रकार का पर्सनल इंफॉर्मेशन मैनेजर ऐप (Personal Information Manager App) है और इसी के साथ वह ई-मेल कम्युनिकेशन सॉफ्टवेयर (Email Communication Software) भी है।


#8. एम एस इन्फोपाथ डिज़ाइनर (Microsoft InfoPath Designer)

इसके द्वारा हम किसी person, group और company को ई मेल send एवं receive kar सकते है इसके अलावा text box, check box और radio button आदि इसी की सहायता से बनाए जाते है। इसको Microsoft version 2003 के साथ लॉन्च किया गया था। इसे एम एस इन्फोपाथ फिलर (Microsoft InfoPath Filar) भी कहते हैं।


माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस वर्शन का इतिहास – History Of MS Office Versions

दोस्तों आइयें इस टॉपिक पर भी एक नजर डाल लेते है कि MS-Office का इतिहास क्या है तो चलिए देखते है इसमें हमें क्या जानने को मिलता है। 

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस को माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के फाउंडर बिल गेट्स के द्वारा अमेरिका के लास वेगास (Las Vegas) शहर में लॉन्च किया गया था।

MS Office को सर्वप्रथम 1989 में मैक ऑपरेटिंग सिस्टम (Mac-OS) के लिए शुरू/तैयार किया गया था। जिसको 1990 में विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए लॉन्च किया गया था। 

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस का पहला वर्जन MS Office 1.0 के नाम से उतारा गया था। इसके बाद इस सॉफ्टवेयर कंपनी द्वारा लगातार updates किया जाता रहा है। और साथ ही समय समय पर इसके नए वर्जन भी लाए गए। इसके नए वजन में फीचर्स के साथ साथ कंपोनेंट्स की संख्या में भी इजाफा किया गया। जिस कारण इसके पैकेज में कई सारे नए कंपोनेंट्स या प्रोग्राम्स को शामिल गया। MS Office का अभी सबसे जो लेटेस्ट वर्जन है वह 2019 लॉन्च किया गया था। 

Launched Year MS Office Version
1995Microsoft Office 95
1997Microsoft Office 97
2000Microsoft Office 2000
2003Microsoft Office 2003
2007Microsoft Office 2007
2010Microsoft Office 2010
2013Microsoft Office 2013
2016Microsoft Office 2016
2019Microsoft Office 2019
This table tells about the history and version of the Microsoft office

एम. एस ऑफिस की विशेषताएं – Properties Of MS Office

दोस्तों अभी हमने इसके बारे में काफी बाते जानी लेकिन MS Office की विशेषताओं के बारे में बात करें तो इसके काफी सारे फायदे है सभी को एक एक करके बताना तो संभव नहीं है लेकिन हम फिर भी कुछ मुख्य फीचर्स के बारें में जरूर बात करेंगे। जो कि इस प्रकार है।- 

  1. आप Microsoft Office में किसी भी डॉक्यूमेंट को HTML File के रूप में सेव कर सकते हो है। जिससे हम लोग उस File को Browser पर भी देख सकते हैं।
  2. इसमें आप Office Assistant का इस्तेमाल भी कर सकते हो। 
  3. इसमें एक से ज्यादा भाषाओं जैसे हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, मराठी ,गुजरती,आदि भाषाओं का इस्तेमाल कर सकते हो।
  4. MS Office मे आप Web Page Wizard के माध्यम से Web Page भी बना सकते है।
  5. इसमे आप Internet से Connect करके अपने डॉक्यूमेंट को Share भी कर सकते हैं।
  6. MS Office अब हिंदी में भी उपलब्ध हो गया है। इससे अंग्रेज़ी न जानने वाले उपयोगकर्ताओं के लिए काफ़ी सुविधा हो गई है जिससे यह लोगों को और भी अधिक सरल लगने लगा है।
  7. MS Office में ऑटो करेक्ट (Auto Correct) का फीचर भी दिया जाता है यानि अगर किसी वाक्य में कोई शब्द गलत भी टाईप हो जाता है तो यह उसको खुद ब खुद सहीं कर सकता है।
  8. MS-Office एक यूजर फ्रेंडली सॉफ्टवेयर है ।
  9. MS Office के जितने भी प्रोग्राम है जो फीचर्स हैं वह बहुत ही आसान है उसको कोई नया व्यक्ति भी आसानी से सीख सकता है और उसका उपयोग कर सकता है।
  10. MS Office एक ऐसा सॉफ्टवेयर पैकेज है जिसमें कई तरह के प्रोग्राम एप्लीकेशन है। 
  11. MS-Office चलाने के लिए जितने भी एप्लीकेशन है उन सभी को सीखना बहुत ही आसान है। लेकिन आजकल जो भी कंप्यूटर पीसी लैपटॉप आ रहे हैं उसमें एमएस ऑफिस पहले से ही इंस्टॉल किया हुआ मिल रहा है। 
  12. MS Office सॉफ्टवेयर को चलाने के लिए हाई कंफीग्रेशन कंप्यूटर की जरूरत नहीं है यह आसानी से किसी भी कंप्यूटर में काम करता है।
  13. इस सॉफ्टवेयर को आसानी से इंस्टोल किया जा सकता है। 
  14. MS-Office को समय-समय पर अपडेट भी माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा किया जाता है जिसमें इसमें किसी भी तरह के Error या Bug से संबंधित समस्या नहीं होती है। इसी कारण यह आज इतना पापूलर सॉफ्टवेयर है। 

आपने आज “Ms Office Kya Hai”  के बारे में क्या सीखा?

दोस्तो आज हमने इस पोस्ट में जाना कि MS office क्या है, इसका पूरा नाम क्या है, इसके अंतर्गत कौन-कौन से software आते हैं, MS Office का प्रयोग क्या है, MS Office का इतिहास क्या है, MS Office की विशेषता क्या क्या है। दोस्तो इस पोस्ट में हमने आपको MS Office के बारे में काफी आसान भाषा में समझाया है, लेकिन इसके बाद भी अगर आपका इससे संबंधित कोई सवाल हैं तो हमे comment के माध्यम से बता सकते हैं। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.